May 29, 2024

सीएम धामी ने गांधी मैदान टनकपुर में आयोजित रक्षाबंधन कार्यक्रम में किया प्रतिभाग

1 min read

टनकपुर: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को गांधी मैदान टनकपुर में आयोजित रक्षाबंधन कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने सभी को राखी के पावन पर्व की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए कहा कि उन्हे प्रसन्नता है कि आप सभी लोगों का उन्हेे जो भरपूर स्नेह और सहयोग मिला है उससे उन्हे प्रदेश की सेवा करने में भरपूर ऊर्जा मिल रही है और प्रदेश हर क्षेत्र में विकास की ओर आगे बढ़ रहा है।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि रक्षाबंधन भाई बहन के पारस्परिक, प्रेम, रिश्ते और विश्वास का त्यौहार है और इस पर्व को हम कर्तव्य, आत्मीयता, त्याग, सामाजिक एकता, सद्भावना के प्रतीक के रूप में मनाते हैं। उन्होंने कहा कि इस बार का यह पर्व हमारे लिये और भी महत्वपूर्ण है, चन्द्रयान-3 के सफल प्रक्षेपण व सफल लेंडिंग पर पूरे विश्व ने भारत का लोहा माना है। जिसमें माताओं व बहनों का विशेष योगदान रहा है। प्रदेश की नारी शक्ति अपने कार्यों व आत्मविश्वास के बल पर आत्मनिर्भर बनकर अन्य को भी आर्थिक व सामाजिक रूप से सशक्त बना रही है। आज की मातृशक्ति हर क्षेत्र में प्रतिनिधित्व कर देश का नाम विश्व पटल पर अंकित कर रही है।

मुख्यमंत्री ने जनपद की स्वयं सहायता समूह की महिलाओं द्वारा हस्तनिर्मित पिरूल, ऐपण, सूत व अन्य स्थानीय उत्पादों से बनाई गई राखियों व अन्य निर्मित उत्पादों की सराहना की। उन्होंने कहा कि चंपावत को आदर्श जनपद बनाने हेतु जनपद में विभिन्न विकास कार्य किए जा रहे हैं और चंपावत आदर्श जनपद की ओर तेजी से आगे बढ़ रहा है। इसके साथ ही उत्तराखंड को अग्रणी जिला बनाने के लिए अनेकों विकास कार्य किए जा रहे हैं।

इस अवसर पर रक्षाबंधन कार्यक्रम में बड़ी संख्या में आयी महिलाओं ने मुख्यमंत्री को रक्षासूत्र भेंट कर उनकी दीर्घायु की कामना की। स्कूली बच्चों द्वारा स्वागत गीत एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए गए।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गांधी मैदान में रामलीला मंच का लोकार्पण किया और नेहरू पार्क टनकपुर के सामने नगर आजीविका केंद्र का शुभारंभ किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.